फ्लिपकार्ट पर सामान कैसे बेचे? | How To Sell On Flipkart

फ्लिपकार्ट पर सामान कैसे बेचे (How To Sell On Flipkart ), ई-कॉमर्स का सबसे बड़ा प्लैटफ़ार्म फ्लिपकार्ट अपनी साइट पर कई तरह के प्रॉडक्ट पेश करता है। लाखों ग्राहक होने के कारण, फ्लिपकार्ट विभिन्न प्रकार के प्रॉडक्ट को बेचने के लिए सबसे अच्छे प्लेटफार्मों में से एक है। यदि आपके पास अपने प्रॉडक्ट हैं या आप फ्लिपकार्ट जैसे बड़े प्लेटफॉर्म के माध्यम से कुछ प्रॉडक्ट बेचना चाहते हैं, तो आपको नीचे दिये गए स्टेप्स का पालन करना होगा।

यहां आप जानिए, फ्लिपकार्ट पर सामान कैसे बेचे। (How To Sell On Flipkart )

फ्लिपकार्ट पर सामान कैसे बेचे?

फ्लिपकार्ट पर सामान कैसे बेचे | फ्लिपकार्ट पर सेलर कैसे बने (How To Sell On Flipkart )

यदि आप एक विक्रेता हैं जो फ्लिपकार्ट जैसे ई-कॉमर्स की बड़ी साइट पर अपने प्रॉडक्ट को बेचना चाहते हैं, तो आपको कुछ स्टेप्स का पालन करना होगा।

1 सेलर रजिस्ट्रेशन ऑन फ्लिपकार्ट (Seller Registration On Flipkart) 

फ्लिपकार्ट पर सेलर रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपको पहले प्राथमिक आवश्यकताएं पूरी करनी चाहिए। फ्लिपकार्ट पर सेलर रजिस्ट्रेशन आप अलग- अलग टाइप से कर सकते है,जैसे की व्यक्तिगत (Individual), प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के नाम से, लिमिटेड लियाबिलिटी पार्टनर्शिप (Limited Liability Partnership) के नाम से और ट्रस्ट और फाउंडेशन से।

नीचे हम हर एक के बारे मै डीटेल मै जानकारी लेगे और जानेंगे उसमे रजिस्ट्रेशन कैसे किया जाता है।

a. व्यक्तिगत (Individual) सेलर रजिस्ट्रेशन

ईसमे एक सिंगल व्यक्ती आपना सेलर रजिस्ट्रेशन करके फ्लिपकार्ट पर सामान बेचता है। ईस टाइप के सेलर रजिस्ट्रेशन मै आपकी खुद की ओनर शिप रहती है, ईसमे कोही भी पार्टनर और इन्वेस्टर बीच मै नहीं रहता।

आपको बैंक लोन की आवश्यकता होगी तो एक लंबी प्रोसीजर करनी पड़ती है। आपको ईस टाइप के अकाउंट सुरू करने के लिए कुछ डॉकयुमेंट की लिस्ट दियी गई है।

  • आपको एक लेटर हैड मै घोषणापत्र (Declaration) देना होगा की आप एक व्यक्ति के रूप में अपने व्यवसाय के बैंक खाते के मालिक हैं और उसका प्रबंधन करते हैं।
  • आपको फ्लिपकार्ट पेमेंट गेटवे पर बैंक अकाउंट का स्टेटमेंट रजिस्टर करना होगा।
  • पैन कार्ड
  • पासपोर्ट
  • ड्राइविंग लैसेंस
  • वोटेर आईडी
  • किसी मान्यता प्राप्त लोक प्राधिकरण या लोक सेवक से पहचान सत्यापित करने वाला पत्र।

ये भी पढे 

एड्रैस प्रूफ के लिए डॉक्युमेंट्स, ईनमे से आप एक डॉकयुमेंट दे सकते है। 

  • प्रोपराइटरशिप फर्म के नाम से टेलीफोन बिल (फिक्स्ड लाइन)
  • राशन कार्ड
  • प्रोपराइटरशिप फर्म के नाम पर बिजली बिल
  • नियोक्ता से पत्र
  • प्रोपराइटरशिप के नाम पर बैंक अकाउंट स्टेटमेंट
  • लीज या लाइसेंस अग्ग्रेमेंट

b. प्राइवेट लिमिटेड कंपनी से सेलर अकाउंट 

जब आप फ्लिपकार्ट पर अपने प्रॉडक्ट को एक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के रूप में बेचना चाहते हैं, तो इसके प्रमोटर को एक अलग कानूनी इकाई के साथ सीमित देयता संरक्षण प्रदान करता है, यहां तक कि हस्तांतरण अधिकार भी एक सरल प्रक्रिया है, इससे निवेशकों को जोड़ने की क्षमता भी मिलती है या अपने बिज़नस को बढ़ाने के लिए इन्वेस्तेर्स। यह सबसे बेहतर तरीकों में से एक है जिसे आपको केवल निम्नलिखित दस्तावेज जमा करने की आवश्यकता है।

आइडैनटिटि प्रूफ के लिए डॉक्युमेंट्स

  • प्राइवेट लिमिटेड कंपनी की certified कॉपी
  • मेमोरेंडम ऑफ एसोसिएशन की कॉपी
  • कंपनी के नाम से पैन कार्ड

एड्रैस प्रूफ के लिए डॉक्युमेंट्स 

  • कंपनी का बिजली का बिल
  • कंपनी टेलीफोन बिल (फिक्स्ड लाइन)
  • रेंट अग्ग्रेमेंट

C. लिमिटेड लियाबिलिटी पार्टनर्शिप (Limited Liability Partnership) 

आप अपना प्रॉडक्ट लिमिटेड लियाबिलिटी पार्टनर्शिप (Limited Liability Partnership) ईस फ़र्म के ध्वारा फ्लिपकार्ट पर सेलर अकाउंट ओपेन कर सकते है। ईस टाइप मै आप जब भी अपना सेलर अकाउंट ओपेन करते है तो आपको लिमिटेड लियाबिलिटी प्रोटेक्षण, ईज़ी ट्रांस्फेराबिलिटी और सेप्रट लीगल एंटीटी मिलती है। फ्लिपकार्ट सेल्लर बनने के लिए आवश्यक दस्तावेज नीचे दिए गए हैं।

  • एलएलपी निगमन प्रमाणपत्र या भागीदारी पंजीकरण
  • पार्टनरशिप डीड
  • एलएलपी या पार्टनरशिप फर्म के किसी भागीदार या कर्मचारी को उसकी ओर से व्यापार करने के लिए दिया गया पावर ऑफ एटॉर्नी
  • भागीदारों और उनकी तस्वीरों के साथ मुख्तारनामा धारण करने वाले व्यक्ति की पहचान करने वाला कोई भी दस्तावेज़
  • एलएलपी या पार्टनरशिप फर्म का पैन कार्ड

एड्रैस प्रूफ के लिए डॉक्युमेंट्स 

  • भागीदारों और पावर ऑफ अटॉर्नी रखने वाले व्यक्तियों के पते की पुष्टि करने वाला कोई भी आधिकारिक वैध दस्तावेज
  • फर्म/पार्टनर का टेलीफोन बिल
  • फर्म/पार्टनर का बिजली बिल
  • कंपनी का बिजली बिल
  • लीज या रेंट एग्रीमेंट
  • लीज या लाइसेंस एग्रीमेंट

D. एक ट्रस्ट और फाउंडेशन के रूप में फ्लिपकार्ट पर सेलर अकाउंट 

अगर आप का ट्रस्ट या फाउंडेशन हैं तो आप फ्लिपकार्ट पर सेलर भी बन सकते हैं। ट्रस्ट या फाउंडेशन के पते के साथ ट्रस्ट या फाउंडेशन की कानूनी पहचान के रूप में शामिल करने के लिए आपको ट्रस्ट या फाउंडेशन के नाम पर ऊपर दिये गये दस्तावेजों के समान ही दस्तावेज जमा करने की आवश्यकता है।

ये भी पढे 

2. फ्लिपकार्ट पर प्रॉडक्ट की लिस्टिंग करे। 

फ्लिपकार्ट पर लिस्टिंग करना दूसरे मार्केट प्लेस से बहुत आसान है। फ्लिपकार्ट का एक स्वयं सेवा पोर्टल है। फ्लिपकार्ट पर सूचीबद्ध और बेचने के लिए आपके पास कम से कम दस प्रॉडक्ट होने चाहिए।

आप प्रॉडक्ट की तस्वीरें तैयार रख सकते हैं और टेक्स्ट और कीमत की जानकारी के साथ छवियों को अपलोड कर सकते हैं। और अपने प्रॉडक्ट के लिए सही श्रेणी का चयन करें।

3. डैशबोर्ड – जहां सभी प्रॉडक्ट Manage किए जाते हैं।

एक बार फ्लिपकार्ट पर सेलर रजिस्ट्रेशन, प्रॉडक्ट की लिस्टिंग अपलोड हो जाने के बाद आप फ्लिपकार्ट पर बिक्री शुरू कर सकते हैं। फ्लिपकार्ट सभी ऑपरेशन को नियंत्रित करने के लिए एक डैशबोर्ड प्रदान करता है।

ईसके साथ ही फ्लिपकार्ट प्रचार और विज्ञापन के साथ-साथ विश्लेषणात्मक सहायता भी प्रदान करता है, जिससे आप यह जान पाएंगे कि कीमतों और अन्य कारनों के मामले में कौन सा उत्पाद अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। डैशबोर्ड आपको सभी डिटेल्स को बदलने की अनुमति देता है, उदाहरण के लिए – मूल्य निर्धारण, बुलेट पॉइंट, विवरण इत्यादि, लेकिन यदि आपकी लिस्टिंग अपडेट की जाएगी और आप अपना एमआरपी भी नहीं बदलेंगे तो आप अपना शीर्षक नहीं बदलेंगे।

4. फ्लिपकार्ट द्वारा उत्पादों की शिपिंग और लॉजिस्टिक्स

जब आप फ्लिपकार्ट विक्रेता खाता शुरू करते है तो आपको शिपिंग और लॉजिस्टिक्स सहायता का लाभ मिलता है। फ्लिपकार्ट ने कोरियर के साथ टाइ – उप किया है जो आपका पार्सल उठाएगा और पूरे भारत में उसे वितरित करेगा। वे पैकेजिंग सहायता और सामग्री के साथ-साथ प्रशिक्षण भी प्रदान करते हैं। एक बार ऑर्डर मिलने के बाद, सेल्लर प्रॉडक्ट को पैक करता है और शिपमेंट के लिए तैयार करता है।

लॉजिस्टिक पार्टनर इसे आगे की प्रोसेसिंग (जैसे की कस्टमर तक पोहचना) के लिए उठाता है। कृपया ध्यान दें, फ्लिपकार्ट पैकिंग सामग्री प्रदान नहीं करता है। सेलर को अपनी व्यवस्था खुद करनी होगी। फ्लिपकार्ट और शिप पर बेचना आसान है क्योंकि उनके पास 200 पिकअप हब और 10,000 डिलीवरी कर्मी हैं।

ईसमे आपको दो टाइप के शिप्पिंग मेथड है: एक फ्लिपकार्ट स्टैंडर्ड डेलीवेरी और दूसरी फ्लिपकार्ट एडवांटेज एसमे 24 घंटे मै आपको सामान मिलता है और 30 दिन की रिटर्न पॉलिसी उपलब्ध है।

5. फ्लिपकार्ट पर ऑर्डर की पूर्ति

फ्लिपकार्ट मै नए ऑर्डर मिलने के बाद कस्टमर तक पोहचना एसके लिय क्या स्टेप्स है ये नीचे दिये गए है।

  1. पहिले न्यू ऑर्डर आपको मिलता है।
  2. वो ऑर्डर पैक कराया ज्याता है।
  3. पैक किया हुवा ऑर्डर कस्टमर के लिए Dispatch होता है।
  4. सेल्लर को Manifest Download करना पड़ता है, क्योंकि कि आप पिकअप के दौरान अपने पिकअप पार्टनर से कोरडीनिएट करते है।

6. डेलीवेरेड प्रॉडक्ट की पेमेंट 

आपके सेल किए हुये प्रॉडक्ट की पेमेंट आपको रिटर्न पीरियड कंप्लीट होने के बाद आपको मिलती है। आपको फ्लिपकार्ट की तरफ़से पेमेंट की कोई टेंशन लेने की जरूरत नहीं है। क्योंकि वो आपको टाईमली और गारेंटेड पेमेंट प्रोवाइड करता है।

फ्लिपकार्ट प्रॉडक्ट की सेल्लिंग के लिए कितने पैसे लेता है?

फ्लिपकार्ट पर प्रॉडक्ट की सेलिंग करने के लिए आपको प्राइस और प्रॉडक्ट की श्रेणी के हिसाब से पेमेंट देनी पड़ती है। ईसके लिए कुछ फ़ैक्टर्स डेपेण्ड्स करते है:-

  1. फ्लिपकार्ट प्रॉडक्ट कीमत के आधार पर प्रत्येक बिक्री के हिसाब से एक छोटा कमीशन लेता है।
  2. आपको प्रॉडक्ट की शिप्पिंग फी देनी पड़ती है, तो आप अपनी शिप्पिंग फी प्रॉडक्ट मै एड़ कर सकते है या वरना आप अलग से कस्टमर से ले सकते है।
  3. ईसके बाद फ्लिपकार्ट आपसे कलेक्शन फी लेता है, ये फी पेमेंट मेथड पर देपंडेंट है।
  4. फ्लिपकार्ट ऑर्डर वैल्यू के स्लैब के आधार पर एक फ़िक्स्ड फी भी लेता है।

आप 2000 रुपये का प्रॉडक्ट फ्लिपकार्ट पर बेच रहे हो तो आपको 10% कमिशन, Rs 35/- शिप्पिंग चार्जेस, Rs 30-50/- कलेक्शन फी और Rs 40/- फ़िक्स्ड फी देनी पड़ती है।

ये भी पढे 

Leave a Comment